वैश्विक संबंधों का सूत्रधार बनने जा रहा उत्तर प्रदेश- राजनाथ सिंह

img

लखनऊ, बुधवार, 05 फ़रवरी 2020। देश के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने यहां कहा कि उत्तर प्रदेश वैश्विक संबंधों का सूत्रधार बनने जा रहा है। उन्होंने यह बात 5 से 9 फरवरी तक चलने वाले डिफेंस एक्सपो (रक्षा प्रदर्शनी) के संदर्भ में कही। राजनाथ यहां के इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में आयोजित डिफेंस एक्सपो के कर्टन रेजर (पूर्वावलोकन) कार्यक्रम में बोल रहे थे। उन्होंने कहा, "कई महीनों की मेहनत का स्वप्न आज अपना वास्तविक आकार ले रहा है। यह इवेंट एक ग्लोबल बेंचमार्क के रूप में सामने आएगा। इसके साथ ही उत्तर प्रदेश वैश्विक संबंधों का सूत्रधार बनने जा रहा है। इस शानदार आयोजन का उद्देश्य अपने देश को सशक्त और समृद्धशाली बनाना है।" रक्षामंत्री ने कहा, "जितना हमने सोचा था, उससे भी बड़ा ये एक्सपो हो रहा है। इससे हमें तेजी से बदल रही टेक्नोलॉजी को समझने का मौका मिलेगा।"

उन्होंने कहा कि भारत जैसा विशाल देश इंपोर्टेड आर्म्स पर ज्यादा दिन तक निर्भर नहीं रह सकता है। यह इवेंट हमें अपने लक्ष्य की प्राप्ति में सबसे ज्यादा मदद करेगा। राजनाथ ने कहा कि दुनियाभर में तेजी से बदल रही तकनीक को जानने, समझने और उससे जुड़ने के लिए डिफेंस एक्सपो-2020 एक महत्वपूर्ण आयोजन है। उन्होंने कहा, "हम भारत को डिफेंस मैन्युफैक्च रिंग के रूप में तैयार कर रहे हैं और इसके लिए डिफेंस एक्सपो उचित प्लेटफॉर्म साबित होगा। मेक इन इंडिया को प्रमोट करने के लिए भी यह आयोजन सहायक होगा।"

रक्षा मंत्रालय के संयुक्त सचिव डॉ. अमित सहाय ने बताया कि 'रक्षा का डिजिटल परिवर्तन' टैग लाइन पर आधारित एशिया की सबसे बड़ी इस रक्षा प्रदर्शनी में 1028 कंपनियां भाग ले रही हैं, और इनमें 272 कंपनियां विदेशी हैं। इस मौके पर 200 से ज्यादा एमओयू साइन होने की उम्मीद है। उन्होंने बताया कि इस आयोजन के तहत 'इंडिया-अफ्रीका डिफेंस मिनिस्टर कॉन्क्लेव' आयोजित होगा, 15 अफ्रीकी देशों के रक्षामंत्री इसमें शामिल रहेंगे। 6 फरवरी को 'इंडिया रशिया इंडस्ट्रियल मिल्रिटी कॉन्फ्रेंस' होगी, जिसमें रूस के उद्योगमंत्री और भारत के रक्षामंत्री रहेंगे। इसमें 5 एमओयू साइन होने की उम्मीद है।
 

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement