यूक्रेन का विमान गिराने पर बोले ईरान के राष्ट्रपति- सशस्त्र बल माफी मांगें, यूरोपीय सैनिकों को दी चेतावनी

img

तेहरान : ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी ने पिछले सप्ताह यूक्रेन के विमान को गिराये जाने के बाद बुधवार को राष्ट्रीय एकता की अपील की. रूहानी ने कहा, लोग यह सुनिश्चित करना चाहते हैं कि प्रशासन उनके साथ संवेदना, विश्वास और सत्यनिष्ठा से पेश आयेगा. उन्होंने सशस्त्र बलों से कहा कि वह माफी मांगें और लोगों को बताये कि यह विमान हादसा कैसे हुआ. रूहानी ने पश्चिम एशिया में तैनात यूरोपीय सैनिकों को चेतावनी देते हुए कहा कि वे खतरे में पड़ सकते हैं. यह चेतावनी ऐसे समय आयी है, जब ब्रिटेन, फ्रांस और जर्मनी ने 2015 के परमाणु समझौते की सीमाओं को तोड़ने को लेकर ईरान को चुनौती दी है. ईरान के राष्ट्रपति मंत्रिमंडल की बैठक में इसकी घोषणा की. इसका प्रसारण टीवी के जरिये किया गया. समझौते में तय सीमा को पार करने के ईरान के कदम पर राष्ट्रों की आपत्ति के बाद रूहानी ने ये चेतावनी दी है. अमेरिका से तनातनी के बीच यह पहली बार है जब रूहानी ने यूरोप को धमकी दी है. राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने मई 2018 में एकतरफा तरीके से इस समझौते से अमेरिका के अलग होने की घोषणा की थी.

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement