गैर गुजराती आईएएस की नेमप्लेट देखकर होता है दुख- उपमुख्यमंत्री पटेल

img

गांधीनगर, रविवार, 05 जनवरी 2020। गुजरात के उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल का कहना है कि सचिवालय में गैर-गुजराती अधिकारियों की नेमप्लेट देखकर उन्हें दुख होता है। उन्होंने कहा, 'मैं जब रोजाना सचिवालय जाता हूं तब वहां सचिवों की नेमप्लेट देखकर दुख होता है कि सभी आईएएस, आईपीएस सहित अधिकांश वरिष्ठ अधिकारी गुजरात से बाहर के होते हैं।' उपमुख्यमंत्री ने कहा, 'हम पढ़ लिखकर व्यापार-कारोबार के लिए अमेरिका सहित कई अन्य देशों में गए लेकिन सचिवालय तक नहीं पहुंच पाए।' उन्होंने यह बातें गांधीनगर में चौधरी समाज के स्नेह मिलन समारोह में कहीं। उन्होंने चौधरी समाज के लोगों से अपील की कि वे अपने बच्चों को इतना पढ़ाए-लिखाए कि वह ऊंचे पदों पर पहुंच सकें।

भाजपा नेता ने कहा कि एक समय था जब गुजरातियों की सरकारी नौकरी में दिलचस्पी थी। भारत सरकार में रेलवे, बंदरगाह, ओएनजीसी सहित कई ऐसी जगह हैं जहां उच्च स्तर पर गुजराती अधिकारी कम ही हैं। हम इस तरफ दिलचस्पी नहीं लेते थे केवल व्यापार-कारोबार में आगे बढ़ते रहे। अब छात्र उच्च शिक्षा हासिल कर रहे हैं। ऐसे में हर मां-बाप चाहते हैं कि उनके बच्चे आईएएस-आईपीएस अधिकारी बनें। मुझे विश्वास है कि आने वाले समय में आईएएस-आईपीएस सहित उच्च पदों पर ज्यादा से ज्यादा गुजराती लोग काबिज होंगे। 

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement