वीर सावरकर को लेकर देवेंद्र फडणवीस ने कहा- विधानसभा में विपक्ष देगा निंदा प्रस्ताव

img

मुंबई, रविवार, 15 दिसम्बर 2019। महाराष्ट्र की राजनीति में राहुल गांधी के बयान ने हलचल तेज हो गई है। दिल्ली के रामलीला मैदान में शनिवार को कांग्रेस सांसद ने कहा था कि उनका नाम राहुल सावरकर नहीं बल्कि राहुल गांधी है। वह सच्चाई के लिए मरते दम तक माफी नहीं मांगेगे। जिसपर महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री ने पलटवार करते हुए कहा है कि वह राज्यसभा में निंदा प्रस्ताव लाएंगे। 

Maharashtra Leader of Opposition (LoP) & BJP leader, Devendra Fadnavis in Nagpur: The opposition will move a condemnation motion in the state assembly, over Rahul Gandhi's comments on Veer Savarkar. https://t.co/BzgMmoMn0E

— ANI (@ANI) December 15, 2019

महाराष्ट्र के नेता प्रतिपक्ष देवेंद्र फडणवीस ने नागपुर में कहा, 'राहुल गांधी के वीर सावरकर को लेकर दिए बयान पर विपक्ष राज्य विधानसभा में निंदा प्रस्ताव लेकर आएगी। इससे पहले शिवसेना हमारे साथ थी और हमने साथ मिलकर फैसले लिए हैं। अब वही शिवसेना हमारे सभी फैसलों का विरोध कर रही है और हमारे काम को रोक रही है।' सावरकर पर दिए बयान को लेकर राहुल गांधी केवल विपक्ष के ही नहीं बल्कि महाराष्ट्र में अपनी सहयोगी पार्टी शिवसेना के भी निशाने पर हैं। शिवसेना के प्रवक्ता संजय राउत ने उन्हें सावरकर की किताबें पढ़ने की सलाह दी है। वहीं भाजपा के गिरिराज सिंह और देवेंद्र फडणवीस ने उनके उपनाम को उधार का बताया है।

फडणवीस ने कहा कि केवल आखरी नाम गांधी होने से कोई महात्मा गांधी नहीं बन जाता है। उन्होंने कहा, 'शायद राहुल गांधी को सावरकर जी के बारे में जानकारी नहीं है। सावरकर जी को अंडमान जेल की कोठरी में 12 साल तक यातना का सामना करना पड़ा जबकि राहुल गांधी 12 घंटे भी नहीं रह सकते। सिर्फ गांधी को अपने नाम में लगाने से आप गांधी नहीं बन जाते। सावरकर के खिलाफ ऐसी भाषा का इस्तेमाल करना, देश के लिए सब कुछ त्याग करने वाले तमाम देशभक्तों का अपमान है।'

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement