जानिए आखिर क्यों महिलाएं होती हैं जल्द बुढा़पे की शिकार ?

img

आजकल के जमाने में हर महिला खूबसूरत दिखना चाहती है, लेकिन कई महिलाओं की कम उम्र में ही शक्ल पर बुढ़ापा नजर आने लगता है। मगर क्या आप जानते हैं कि, वो महिलाएं जो ज्यादातर आराम करती हैं, उन महिलाओं को ही बुढ़ापे जैसी समस्याओं के साथ झुझना पड़ता है।

जी हां, ऐसी महिलाएं जो दिन में 10 घंटे से ज्यादा समय तक कम शारीरिक मेहनत वाला कामकाज करती हैं उनकी कोशिकाएं जैविक रूप से आठ साल अधिक बूढ़ी हो जाती हैं। अमेरिका में सेन डिएगो स्कूल ऑफ मेडिसिन के शोधकर्ताओं ने एक रिसर्च में यह बात कही है। में पाया कि ऐसी महिलाएं जो प्रतिदिन 40 मिनट से कम समय तक हल्की से भारी शारीरिक मेहनत का कार्य करती हैं उनके शरीर में टेलोमीरिज छोटे होते हैं। टेलोमीरिज गुणसूत्रों को नष्ट होने से बचाने वाले डीएनए स्ट्रेंड्स के अंतिम हिस्सों पर लगे बहुत छोटे-छोटे कैप होते हैं। 

उम्र बढ़ने के साथ ये तेजी से और छोटे होते जाते हैं। जैसे-जैसे उम्र बढ़ती जाती है ये टेलोमीरिज प्राकृतिक रूप से छोटे और नाजुक होते जाते हैं लेकिन स्वास्थ्य और जीवनशैली जैसे कि मोटापा और धूम्रपान से यह प्रक्रिया और भी तेज हो जाती है। लेकिन कसरत है कारगर : शोध टीम के प्रमुख  ने बताया, हमने पाया कि जो महिलाएं ज्यादा समय तक बैठी रहती हैं लेकिन अगर वे रोज कम से कम 30 मिनट तक कसरत करती हैं तो उनके टेलोमीरिज उतने छोटे नहीं होते। इस अध्ययन के लिए 64 से 95 साल की लगभग 1500 महिलाओं पर शोध किया गया। जिसके बाद शोधकर्ताओं का कहना है कि अगर आराम-तलब जीवनशैली है तो कोशिकाएं बहुत तेजी से बूढ़ी होती हैं।

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement