मोटापा- मधुमेह नियंत्रण में भी फायदेमंद है बादाम

img

बादाम के सामान्य तौर पर पौष्टिक होने और दिल के लिए मुफीद होने की बात से तो सब वाकिफ हैं पर कम ही लोगों को पता है कि इसके नियमित सेवन से मोटापा कम करने में और मधुमेह यानी डायबिटीज की बीमारी को नियंत्रित करने में भी खासी मदद मिलती है। 

अल्मोंड बोर्ड ऑफ केलिफोर्निया के भारत में क्षेत्रीय निदेशक सुदर्शन मजूमदार की मौजूदगी में यहां ‘आज की भागदौड़ भरी जीवनशैली से तालमेल बिठाते हुए स्वस्थ कैसे रहें’ विषय पर आयोजित एक परिचर्चा के दौरान जानी मानी फिटनैस विशेषज्ञ और अमेरिकन काउंसिल ऑन एक्सरसाइज से प्रमाणित वजन प्रबंधन विशेषज्ञ सपना व्यास तथा फिटनेस एवं आहार विशेषज्ञ और अमेरिकन एकैडमी ऑफ न्यूट्रीशन की पूर्व छात्रा माधुरी रुइया ने बादाम सेवन के लाभ के साथ ही साथ इसके बारे में कई मिथकों पर भी बातचीत की।

फायदे-

  • बादाम, वजन के नियंत्रण में इसलिए बेहद मददगार है क्योंकि इसके सेवन से पौष्टिक तत्व तो मिलते ही हैं, कम कैलरी में ही पेट भरे होने का एहसास होता है जिससे अधिक खाने की प्रवृत्ति पर भी रोक लगती है।
  • बादाम रक्त में शर्करा की मात्रा को नियंत्रित करने में खासा लाभदायक है। इस तरह यह मधुमेह नियंत्रण में बहुत फायदेमंद है। दिल के लिए यह बेहतर तो है हीं क्योंकि इसके सेवन से खराब कोलेस्ट्रॉल यानी एल.डी.एल. कम होते हैं और अच्छे कोलैस्ट्रॉल यानी एच.डी.एल. बढ़ते हैं जबकि कोलैस्ट्रॉल घटाने वाली दवाओं से दोनों ही घट जाते हैं। 30 ग्राम बादाम रोजाना खाएं एक व्यक्ति रोजाना 30 ग्राम बादाम सेवन कर सकता है और
  • इसे सुबह के नाश्ते के साथ खाना सबसे अच्छे परिणाम देता है। 
  • वैसे इसे कभी भी खाया जा सकता है। छिलके में कई तरह के पोषक पदार्थ बादाम को छिलके समते खाना सबसे अच्छा होता है क्योंकि छिलके में कई तरह के पोषक पदार्थ होते हैं। उन्होंने कहा कि बादाम भिंगोने से भी इसके पोषक तत्व कम होते हैं हालांकि यह पचने में थोड़ा आसान हो जाता है। पर पूरे बादाम को छिलके के साथ खाना ही अच्छा होता है।

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement