कांग्रेस के नेतृत्व में विपक्ष ने अंबेडकर की प्रतिमा के सामने महाराष्ट्र मसले पर किया विरोध-प्रदर्शन

img

नई दिल्ली, मंगलवार, 26 नवम्बर 2019। कांग्रेस ने मंगलवार को पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और पार्टी सांसद राहुल गांधी के साथ बी आर अंबेडकर की प्रतिमा के सामने विरोध प्रदर्शन किया। आज संसद के संयुक्त अधिवेशन का कांग्रेस ने बहिष्कार कर दिया है।  महाराष्ट्र में भारतीय जनता पार्टी द्वारा कथित तौर पर गलत तरीके से सरकार बनाने के खिलाफ किए गए प्रदर्शन के दौरान कांग्रेस ने इस बात का मुद्दा बनाने की कोशिश की कि आंबेडकर के दिए संविधान की धज्जियां उड़ाने का काम भाजपा ने किया है।

सोनिया गांधी ने आंबेडकर की प्रतिमा के सामने संविधान की प्रस्तावना पढ़ते हुए कहा कि महाराष्ट्र में सरकारी कार्रवाई संवैधानिक मूल्यों के खिलाफ है। संविधान दिवस के मौके पर कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने ट्वीट किया कि सभी नागरिकों को बधाइयां और शुभकामनाएं। इस दिन हमारे महान नेताओं को उनके योगदान के लिए श्रद्धांजलि और हम संविधान को बचाने के लिए प्रतिबद्ध हैं, क्योंकि हमें इस पर गर्व है। पूर्व प्रधानमंत्री और कांग्रेस नेता डॉ. मनमोहन सिंह ने विपक्ष पर संसद के संयुक्त सत्र का बहिष्कार करने पर कहा कि यह संविधान का उल्लंघन नहीं है। यह सभी को याद दिलाता है कि संवैधानिक मानदंडों का वर्तमान प्रतिष्ठान द्वारा उल्लंघन किया जा रहा है।

संविधान दिवस के मौके पर संसद के सेंट्रल हॉल में आयोजित एक कार्यक्रम का कांग्रेस और उसकी सहयोगी पार्टियों ने बहिष्कार किया। कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि हम सभी लोग 26 नवंबर को संविधान दिवस मनाते हैं। आइए आज संकल्प करें- सत्ता के लिए संविधान की आत्मा को निरंकुश सरकार के पास गिरवी नहीं रखा जाएगा।

 

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement